Mahadevi verma ka jivan parichay

महादेवी वर्मा का जीवन परिचय: Mahadevi verma ka jivan parichay, Biography of Mahadevi Verma

Mahadevi verma ka jivan parichay: महादेवी वर्मा का जीवन परिचय कबीर दास का जीवन परिचय, बायोग्राफी, जीवनी, निबंध,अनमोल विचार, राजनितिक विचार, जयंती, शिक्षा, धर्म, जाति, मृत्यु कब हुई थी, शायरी, आत्मकथा Mahadevi verma ka jivan parichay

mahadevi verma ka jivan parichay: इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि महादेवी वर्मा का जीवन परिचय जो कि आपको बहुत ही आसान भाषा में समझ में आ जाएगा तो आपको इस आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़ें ताकि आपको पूरी जानकारी अच्छी तरह से मिल जाएगा

महादेवी वर्मा का जीवन परिचय: Mahadevi verma ka jivan parichay

Biography of Mahadevi Verma: महादेवी वर्मा काजल 26 मार्च 1960 ईस्वी में औरंगाबाद के उत्तर प्रदेश में हुआ था और या एक भारतीय था और इसके माता का नाम हेम रानी देवी था और इसके पिता का नाम श्री गोविंद प्रसाद वर्मा था इसे पुरस्कार पद्म भूषण 1956 ईस्वी में और विभूषण 1998 में और ज्ञानपीठ पुरस्कार भी मिला था और इसका पैसा जो था वह एक कवित्री था लघु कथा लेखिका भी थी और इसका मृत्यु 11 सितंबर 1987 में इलाहाबाद के उत्तर प्रदेश में हो गया और इसकी मृत्यु 80 वर्ष में हो गई थी

Mahadevi verma Life Style

Mahadevi verma ka jivan parichay: महादेवी वर्मा का जन्म उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद के एक प्रतिष्ठित परिवार में 1907 ईस्वी में हुआ था इनके पिता का नाम गोविंद प्रसाद वर्मा था इनकी माता हेमनानी एक साधारण कवित्री थी इसकी माता एवं नाना के गुणों का प्रभाव महादेवी वर्मा पर पड़ा 9 वर्ष की छोटी आयु में ही इसका विवाह स्वरूप नारायण वर्मा इनका दांपत्य जीवन सफल नहीं रहा इन्होंने प्रयाग महिला विद्यापीठ के प्रधानाचार्य पद को सुशोभित किया भारत सरकार द्वारा पद्मभूषण से सम्मानित इस महान लेखिका का स्वर्गवास 11 सितंबर 1987 ईस्वी को हुआ सभी लोग का कहना है कि महादेवी वर्मा का जो कृतियां है सभी को बहुत अच्छा लगता है जो किया एक बहुत अच्छी कवित्री के नाम से भी जाने जाते हैं

Mahadevi verma द्वारा किए गए कुछ अच्छे कार्य

Mahadevi verma ka jivan parichay: उन्होंने खड़ी बोली हिंदी कविता में उस कोमल शब्दावली का विकास किया जो अभी तक केवल बृज भाषा में ही संभव मानी जाती थी | इन्होंने इलाहाबाद में प्रयाग महिला विद्यापीठ के विकास में महत्वपूर्ण योगदान किया I उन्होंने गद्य काव्य शिक्षा पर चित्रकला सभी क्षेत्रों में नए आयाम स्थापित किए इसके अतिरिक्त उनकी 18 काव्य कृतियां है जिसमें मेरा परिवार स्मृति की रेखाएं पद के साथी श्रृंखला की कड़ियां और अतीत के चलचित्र प्रमुख है

Biography of Mahadevi Verma

महादेवी वर्मा का जीवन परिचय:

Date Of Birth26 march 1907
Birth Placeउत्तर प्रदेश (फर्रुखाबाद)
Collegeसंस्कृत,प्रयागराज विश्वविद्यालय
Education1932 ईस्वी में इन्होंने इलाहाबाद विश्वविद्यालय से संस्कृत में m.a. पास किया
Age80 YEAR
YouTubeClick
InstagramClick
TwitterClick
FaceBookClick

अंतिम शब्द

Mahadevi verma ka jivan parichay: महादेवी वर्मा का जीवन परिचय हमने आपको बहुत अच्छी तरह से अपने भाषा में जानकारी दिए हैं तो आपको या जीवन परिचय पढ़ने में कैसा लगा और आपको समझ में आया या नहीं आप हमें कमेंट में भी कर सकते हैं अगर अच्छा लगे तो आप अपने दोस्तों के साथ भी शेयर जरूर करें धन्यवाद

Q : महादेवी वर्मा का जन्म कब हुआ था

ANS : 26 march 1907

Q :महादेवी वर्मा की मृत्यु कब हुई

ANS : 11 सितंबर 1987 ईस्वी को हुआ

Q : महादेवी वर्मा के पिता का नाम क्या है

ANS : गोविंद प्रसाद वर्मा

Q :महादेवी वर्मा के माता का नाम क्या है

ANS : हेमनानी

Q : महादेवी वर्मा का जन्म कहां हुआ था

ANS : उत्तर प्रदेश (फर्रुखाबाद)

Q : महादेवी वर्मा की कितनी कृतियां हैं

ANS : 18 काव्य कृतियां है जिसमें मेरा परिवार, स्मृति की रेखाएं, पद के साथी, श्रृंखला की कड़ियां, और अतीत के चलचित्र प्रमुख है

Q : महादेवी वर्मा का विवाह किसके साथ हुआ था

ANS : स्वरूपनारायण वर्मा

Leave a Comment

Your email address will not be published.